Hair Fall ke karan

बालों का झड़ना कैसे रोकें

बालों का झड़ना कैसे रोकें: आज के समय मे बालो को झडना एक आम बीमारी भी है और बेइज्जती वाली बात भी, गंजा हो जाने के बाद ऐसा लगता है मानो इंसान समय से पहले ही बडा हो गया है। बालो को झडना एक बेहद ही गंभीर समस्या है और बढते समय के साथ इसके मरीज भी बढते जा रहे है, लोगो मे गंजापन कैंसर जैसी बीमारी से भी हो सकता है लेकिन आमतौर पर लोगो के बाल झडने का सिलसिला युं ही शुरु हो जाता है। जब बालो का सही तरह से पोषण नही मिल पाती है और पोषण मे कमी रहने के कारण बाल टुटने लगते है। बाल झडने का मुख्य कारण शरीर मे आयरन कि कमी को माना जाता है, ऐसा इंसान जिसके शरीर मे आयरन कि मात्रा कम होगी उसके बाल झडने का आसार बढ जाते है।

आज इस आर्टिकल मे हम जानेंगे बालो को झडने के बार मे कि बालों का झड़ने का कारण और बालों का झड़ना कैसे रोकें।

यह भी पढ़े: गर्मी के मौसम मे होने वाले बीमारी

चलिये जानते है बालों का झड़ने का कारण

बाल झड़ने के कारण | Hairfall ke Karan

Hair Fall ke karan

बाल के झडने का कारण बहुत से बीमारी और कुछ गुणो कि कमी के वजह से होता है

अनुवंशिक- अगर आपके परिवार मे पहले से ही किसी के बाल झडते हो तो ये बात आप मे भी हो सकता है क्योकि हम सभी जानते है कि ऐसी बीमारी परिवार मे Gene के वजह से बढती जाती है औऱ एक पिढी से दूसरे पिढी तक लोग इससे ग्रसीत होते है।

शारीरीक तनाव- जैसा कि हम सभी जानते ही कि तनाव हमारे शरीर के लिए बहुत ही गलत है, ऐसे मे आपके बाल भी झड सकते है और आप जब भी अपने बाल मे कंघी करते है या फिर हाथ फेरते है तो मुट्ठी भरकर बाल आपके हाथ मे आ जाते है और इस तरह से बाल के झडना को Telogen effluvium(टेलोजेन एफ्लुवियम) कहते है।

एलोपेसिया एरीटा (Alopecia Areata)– बाल झड़ने की गंभीर समस्या)- इस बीमारी मे भी आपके बाल धीरे-धीरे कर झडने लगते है और फिर पुरा बाल ही खत्म हो जाता है।

एनीमिया (खून की कमी)- बाल के अलावा भी एनीमिया और भी कई तरह के बीमारीयो के लिए जाना जाता है, इस बीमारी मे भी आपके बाल झडने लगते है।

ऑटोइम्यून स्थिति जैसे कि ल्यूपस- हमारे इम्यून सिस्टम मे खराबी का मतलब है, हमारे पेट के साथ-साथ और भी कई तरह के दिक्कतों का होना। अक्सर हम पेट के दर्द को छोटा बात कह कर टाल देते है लेकिन इम्यून सिस्टम मे दिक्कत के होने का मतलब है कि इसका असर सिधा बालो पर होता है।

जलने के कारण- अक्सर बचपन मे लोग कि गलती सजा उन्हे जिंदगी भर मिलती रहती है, ऐसा नही है कि सिर्फ बचपन मे ही जलने का तो कभी भी जल सकता है लेकिन लोग ऐसी गलतीयां बचपन मे जरुर करते है।

कुछ संक्रामक रोग जैसे सिफलिस (Syphilis) – यौन संबंध से होने वाला एक तरह का बैक्टीरियल संक्रमण)- जैसा कि हमने आपको उपर पहले ही बताया है कि बालो का झडना कई तरह के रोगो से भी होता है और सिफलिस एक संक्रमण बीमारी है और इस बीमारी मे भी लोगो के बाल झडते है।

अत्यधिक शैंपू करना और बाल-ड्राई करना- जैसा कि हम सभी जानते है कि शैंपू बाल के लिए बनाया जाता है और ऐसे मे कोई भी चिज अत्यधिक खराब ही होता है। बालो मे अत्यधिक शैंपू करना गलत है क्योकि ऐसा करने से भी बाल झडते है।

कुछ आदतें जैसे – लगातार बालों पर हाथ फेरना, खींचना या स्कैल्प को रगड़ना, ऐसा लगातार करने से भी बालो पर असर पडता है और बालो भी कमजोर होने लगते है। बाल के कमजोर होने का मतलब है कि बाल का झडना और इस तरह से भी आप अपने बाल को खो सकते है।

यह भी पढ़े: थायराइड से बचने के घरेलू उपाय

बालों का झड़ना कैसे रोकें | Hairfall Kaise Roke

बालों का झड़ना कैसे रोकें

बाल को झडने से रोकने के लिए बहुत सारे इलाज है लेकिन उससे पहले आपको अपने बालो के प्रति सजग रहना होगा और हर कोई चाहता है कि उसका चमन उजडा हुआ ना हो। बाल के रहने से आप अलग-अलग तरह के लुक ट्राय करते हो, बालो के साथ एक्सपेरिमेंट करते है और ऐसे मे कभी बाल ने साथ छोड दिया तो मुश्किल हो जायेगा। हांलाकी बाल रहने के बाद इंसान कुछ और ही लगता है, हाल ही बॉलीबुड मे इस बात को लेकर कई सारी मुवि बनायी गयी है।

नारियल के तेल- जैसा कि हमने आपको उपर पहले भी बताया है कि नारियल तेल से बालो का मालिश करने बाल मजबुत होते है और बाल घने भी होते है। गंजेपन के इलाज के तौर पर नारियल तेल सबसे कारगर है, इसमे पौष्टिक वसा और अल्फा टोकफेरॉल होता है। वर्जिन नारियल तेल एंटीऑक्सीडेंट से समृध्द होती है जो स्कैप्ल और बालों को नुकसान होने से बचाता है।

पुदीने तेल- आमतौर पर लोग इसका इस्तेमाल पेट ठीक करने के लिए करते है लेकिन पुदिना हमारे बालो के बेहतर के लिए भी मददगार है। 3-5 बूंद पेपरमिंट ऑयल को पानी मे मिलाकर बालो पर मालिश करें और फिर सेम्पु से ल धो लें। इसे आप हफ्ते मे दो बार कर सकते है, पुदिना मे एंटीऑक्सीडेंट और जीवनरोधी गुण पाए गये है। एक अध्ययन मे पाया गया है कि पुदिने मे बाल को जल्दी बढाने का तरीका छुपा हुआ है।

तारामिरा तेल- आप मे से बहुत ही कम लोगो ने आज से पहले इस तेल का नाम सुना होगा लेकिन इस तेल मे गंजेपन को खत्म करने का तरीका छुपा है। इस तेल से भी मालिश करने पर आपके गंजेपन को दुर कर सकता है, इसमे मे एंटीइंफ्लेमैटरी और एंटीफंगल जैसे गुण होते है।

सेब का सिरका- सेब का सिरका भी बालो के लिए बेहतर माना गया है, 1-2 चम्मच सेब का सिरका पानी मे मिलाकर सिर का उससे मालिश करें, ऐसा आप हफ्ते मे दो बार करें और 2-5 मिनट तक मालिश करने के बाद पानी से बाल धो लें। अगर हम आयुर्वेद के रास्ते से बाल उगाने कि बात करें तो इसमे सेब का सिरका भी शामिल है, सेब का सिरका सिर के पीएच के संतुलित करता है और बालो के विकास जैसी बाधाओं को दुर करता है।

आंवला- आवंला बाल के सबस बेहतर और असरदार इलाज माना जाता है, गर्म पानी करके उसे ठंडा कर लें और उसे करीब 1 चम्मच आंवला तेल भी डाल दें और सिर कि मालिश करें, ऐसा करने से बालो को विकास मे मजबुति मिलती है।

यह भी पढ़े: मोटापा कम करने के घरेलू उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *