castor-oil-se-hone-wale-fayda-or-nuksan

कैस्टर ऑयल से होने वाले फायदे और नुकसान

कैस्टर ऑयल: प्राकृतिक का दिया हर चिज हमारे लिए एक वरदान कि तरह है, पेड-पौधे और जावनर हर चिज कि कोई किमत नही है। कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल) उन्ही प्राकृतिक कि देन मे एक से है, ये तेल भी हमारे शरीर के लिए फायदेमंद है। इस तेल मे सौंदर्यता का भी गहरा राज है, कहने का मतलब है की अरंडी का तेल सौंदर्यता और स्वास्थय के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इस तेल का वैज्ञानिक नाम रिसिनस कॉम्यूनिस है, कैस्टर का पौधा सिर्फ भारत और अफ्रिका के जंगलो मे पाया जाता है। कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से हमारे त्वचा और बालों को कई दिक्कतो से दुर रखता है।

आज इस आर्टिकल मे आप जानेंगे कैस्टर ऑयल के बारे मे कि कैस्टर ऑयल के फायदे , कैस्टर ऑयल त्वचा के लिए कैसे लाभदायक है और कैस्टर ऑयल के नुकसान।

कैस्टर ऑयल (Castor Oil) त्वचा को रखे स्वस्थ

कैस्टर ऑयल मे एंटी-बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण पाये जाते है, जो हमारे त्वचा को बेहतर रखती है और सौंदर्यता के काम मे भी इस्तेमाल किया जाता है। आज के समय मे भारतीय बाजार मे कैस्टर ऑयल के कई सारी प्रोडक्ट है सौंदर्यता और त्वचा से जुडि हुयी है।

त्वचा का रूखापन हो दूर

Castrol Oil

अलग-अलग लोगो को अलग-अलग तरह कि त्वचा होती है, कुछ कि रुखी त्वचा, कुछ कि तैलीय त्वचा और कुछ के मिलीजुली हुय़ी सी। अगर आपकि त्वचा रुखी है तो आपके त्वचा के लिए कैस्टर ऑयल बहुत बेहतर है। इससे त्वचा मे नमी की कमी नही होती है, मतलब त्वचा मे नमी को बरकरार रहता है। आपके इसका इस्तेमाल अपने चेहरे के लिए भी कर सकती है लेकिन रोजाना करना है।

खत्म करे मुंहासों की समस्या

अगर आप मुहांसे से परेशान है तो आपके लिए कैस्टर ऑयल एक बेहतर विकल्प है। जबकी मुहांसो के लिए तेल को गलत माना जाता है लेकिन कैस्टर ऑयल इसके लिए बेहतर है। मुहांसे जैसी दिक्कत ऑयली फेश पर होती है और इस दिक्कत के लिए कैस्टर ऑयल बेहतर समाधान है। अगर आप रोजाना गर्म पानी से फेश को धोकर अपने फेश पर कैस्टर ऑयल लगाते है तो मुहांसे जैसी दिक्कत से दुर हो सकते है।

मिटाए बढ़ती उम्र के निशान

जैसे-जैसे हमारी उम्र बठती जाती है वैसे-वैसे ही हमारे त्वचा पर असर दिखने लगता है। हमारी त्वचा पर झुर्रि दिखने लगता है, हमारी त्वचा ज्यादा रुखी होने लगती है। ऐसे मे कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करना त्वचा के लिए फायदेमंद साबित होता है, इसमे एंटी-एजिंग तत्व त्वचा मे चमक बनाये रखती है। जिससे त्वचा जवां दिखती है और झुर्रि से झुट मिलती है। रोजाना कैस्टर ऑयल को शरीर पर मालिस करने से फायदा होगा आपको और आपके त्वचा को।

मॉइस्चराइज़र को कहें

Castor Oil

आज के समय मे त्वचा के लिए बाजार मे कई तरह प्रोडक्ट बिक रहे है, आप मे से कई लोग सका इस्तेमाल करते होगें और ये प्रोडक्ट महंगी भी होती है। ऐसे मे आपके लिए कैस्टर वरदान कि तरह है, इसमे पाये जाने वाले तत्व त्वचा को सबी दिक्कतो से दुर रखती है।

मालिश से मिटें स्ट्रेच मार्क्स

ये दिक्कत महिलाओं मे आम होत है, गर्भावस्था के बाद अकसर उन्हे इस दिक्कत  से रुबरु होना पडता है। स्ट्रेच मार्क्स कि समस्या से निजात पाने के लिए कैस्टर ऑयल बेहतर विकल्प है, कैस्टर ऑयल से मार्क्स वाले जगह पर मालिश करने से इससे छुटकारा मिल जायेगा।

डार्क सर्कल्स

आज के युथ के चेहरे पर तो दिखती ही है, देर रात तक जागना और तनाव मे रहना। देर रात तक जागने से आंखो के निचे डार्क सल्कर्स हो जाते है, एक कालापन सा आंको के निचे आ जाता है। अगर आप ऐसे दिक्कत से जुझ रहा है तो कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद साबित होगा।

होंठों के लिए वरदान

कैस्टर ऑयल

बदलते मौसम का हमारी त्वचा पर असर होता है और होठ का सुखना उनमे से एक है। अक्सर हमारी होठ सुख जाती है, मतलब रुखी हो जाती है और जिसके कारण से हमारा होठ फटने लगता है। ऐसे मे कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल आपके होट के लिए बेहतर विकल्प है। रोजाना कैस्टर ऑयल से होठ कि मालिश करने पर होठ मे नमी बनी रहति है।

सेहत के लिए वरदान है कैस्टर ऑयल (Castor Oil)

जैसा कि हमने आपको उपर पहले बता दिया था कैस्टर ऑयल एक प्राकृतिक वरदान है, कैस्टर ऑयल कई औषधीय गुणो से भरपुर है। इसमे पाये जाने वाले एंटी इन्फ्लामेट्री और एंटी बैक्टीरियल जैसे तत्व हमारे सेहत के लिए बेहतर माना जाता है।

कब्ज को करे दूर

आज के समय मे कब्ज जैसी दिक्कत आम बात है, हर दूसरा इंसान इससे जुझ रहा है। कैस्टर ऑयल मे वसा युक्त फैटी एसिड होता है, जो कब्ज जैसी दिक्कतो से आराम मिल सकता है। समस्या से छुटकारा पाने के लिए दिन के समय मे करीब 15 मिली की खुराक ले सकत है।  

गठिया में फायदेमंद

गठिया जैसे रोग के लिए कैस्टर ऑयल को सबसे बेहतर इलाज माना जाता है, आज के समय मे हर दूसरा इंसान अपने पैर के दर्द, अपने पिठ के दर्द या फिर अपने हड्डीयों मे दर्द को लेकर परेशान है।कैस्टर ऑयल से हड्डीयों के जोड़ों और ऊतकों (Tissues) के दर्द को कम किया जा सकता है

वजन कम करने में सहायक

हर किसी को अपना वजन कम करना है क्योकि आज के समय मे हर दूसरा इंसान मोटा भी है। इसके लिए भी कैस्टर ऑयल पहला विकल्प है, अगर आप भी अपना वजन कम करना चाहते हैं तो सुबह खाली पेट एक चम्मच कैस्टर ऑयल का सेवन करें।

कैस्टर ऑयल (Castor Oil) के साइड इफेक्ट्स

इस बात को हम सभी जानते है की हर किसी चिज का फायदा और नुकसान दोनो होता है। कैस्टर ऑयल के भी साइड इफेक्ट है, चलिए जानते है नुकसान के बारे मे।

  1. हर किसी के शरीर पर कैस्टर ऑयल एक जैसा काम करेगा ये जरुरी है, किसी के शरीर पर इससे एलर्जी भी हो सकती है, चकत्ते भी मिकल सकते है।
  2. कैस्टर ऑयल काफी गर्म माना जाता है, इसके अधिक सेवन से दस्त जैसी दिक्कते भी हो सकती है।
    गर्भवती महिलाओं के लिए ज्यादा दिक्कत देने वाला हो सकता है, उन्हे इसके सेवन से बचना चाहिए।

अरंडी के तेल के पाये जाने वाले पौष्टिक तत्व –अरंडी के तेल में सबसे ज्यादा रिसिनोलिक एसिड पाया जाता है। इसमें लगभग 90% रिसिनोलिक एसिड मौजूद होता है।

  • 4% लिनोलिक एसिड
  • 3% ओलिक एसिड
  • 1% स्टीयरिक एसिड
  • 1% से ज्यादा अन्य लिनोलेनिक फैटी एसिड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *