खुबानी

क्या है खुबानी फल के फायदे

खुबानी फल के फायदे

फल खाना हम सभी को अच्छा लगता है, हम सभी का कोई न कोई पसंदीदा फल भी है जो हमे कभी भी मिल जाये या कहीं भी मिल जाये तो हम खाने से पिछे नही हटते है। स्वाद के भी मामले मे फल के बराबर कोई भी आहार नही है। लोगो को गर्मी का मौसम पसंद नही है लेकिन आम खाना सभी को पसंद है, कहने का मतलब ये है कि जैसे-जैसे मौसम बदलते है हमे अलग-अलग फल खाने और देखने को मिलता है। फलो को खाने का फायदा भी है, फल के पौष्टिक तत्व हि फल को बिमारीयो के लिए बेहतर बनाता है और डॉक्टर भी मरीजो को फलो को खाने का हि सुझाव देते है। हर एक फल मे अलग- अलग पौष्टिक तत्व होते है और फलो को खाने के अपने अलग-अलग फायदे है।

आज के फिटनेस टीप मे हम आपको खुबानी (Apricot) फल के बारे मे बतायेगे कि:

  • खुबानी(Apricot) फल क्या है, किस मौसम में होता है और कहां पाया जाता है?
  • खुबानी(Apricot) फल मे कौन से पोषक तत्व पाये जाते है?
  • खुबानी(Apricot) फल से होने वाले फायदा और नुकसान के बारे मे?
  • खुबानी(Apricot) फल को कैसे खाये कि फायदा हो?
  • खुबानी(Apricot) फल के बारे कुछ रोचक तथ्य?

खुबानी (Apricot) फल क्या है, किस मौसम में होता है और कहां पाया जाता है?

खुबानी फल गुठलीदार फल होता है। खुबानी फल उत्तर भारत और पाकिस्तान मे मुख्य रुप से पाया जाता है, हांलाकि खुबानी फल सबसे पहले कहां पाया गया था ये बात आजतक पता नही चला है। खुबानी फल को अलग-अलग भाषा मे अलग-अलग नामो से पुकारा जाता है। खुबानी फल भी बहुतायत मे पौष्टिक तत्व पाये जाते है। खुबानी फल ठंडे प्रदेशो मे होने वाला फल है, ज्यादा गर्मी मे इसके पौधा सुख जाते है या तो फल नही देते है। भारत मे खुबानी फल कि खेती पहाडी इलाके जैसे कश्मीर,हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड मे होता है।

खुबानी (Apricot) फल मे कौन से पोषक तत्व पाये जाते है?

खुबानी फल

खुबानी फल मे पौष्टिक तत्व (विटामिन और खनिज) भर भर के होते है। सिर्फ 2 ताजे खुबानी फल (70 ग्राम) हमे निम्नलिखित पौष्टिक तत्व प्रदान करते है:

  • कैलोरी(Calories) – 34
  • प्रोटीन(Protein) -1 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट(Carbohydrate) -8 ग्राम
  • फाइबर(Fiber) – 1.5 ग्राम
  • वसा(Fat) -0.27 ग्राम
  • विटामिन A – दैनिक मूल्य (DV) का 8% DV-Daily Value (दैनिक मूल्य)
  • विटामिन C – दैनिक मूल्य (DV) का 8%
  • विटामिन E – दैनिक मूल्य (DV) का 4%
  • पोटैशियम (Potassium) – दैनिक मूल्य (DV) का 4%

सारांश- खुबानी फल मे पौष्टिक तत्वो मे विटामिन कि मात्रा ज्यादा होती है।

खुबानी (Apricot) फल से होने वाले फायदा और नुकसान के बारे मे?

इस छोटे से आकार के फल के बहुत सारे फायदे है,इसके पौष्टिक तत्व बहुत हि लाभकारी है खास कर जिन्हे

खुन कि कमी है।

खुबानी (Apricot) फल से होने वाले फायदा:

खुबानी फल

  • आंखो के लिए फायदेंमंद– खुबानी फल मे पाया जाना वाला पौष्टिक तत्व विटामिनA और विटामिनC आंखो के लिए फायदेंमंद साबित होती है। रतौंधी जैसी बिमारी के लिए खुबानी का फल फायदेमंद है क्योकि इसमे पाया जाने वाला विटामिनA रतौंधी को खत्म करने मे महत्त्वपुर्ण भुमिका अदा करती है। इसमे पाये जाने वाला विटामिन E शरीर कि कमजोरी,मांसपेशियों मे दर्द,धुंधला दिखाई देना जैसे परेशानीयो से भी दुर रखता है।
  • आंत के स्वास्थय को करे बेहतर– एक कप कटा हुआ खुबानी फल(165ग्राम) मे 3.3 ग्राम फाइबर होता है,जो कि पुरुषो और महिलाओं के दैनिक मूल्य(DV) का 8.6%2% है। खुबानी फल मे घुलनशील और अघुलनशील फाइबर दोनो हि पाये जाते है, इसमे पाये जाने वाले फाइबर स्वस्थ रक्त शर्करा(Blood sugar) और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बनाए रखने के लिए महत्वपुर्ण है।
  • पोटैशियम (Potassium) कि मात्रा ज्यादा– खुबानी मे पोटैशियम (Potassium) कि मात्रा ज्यादा होती है, ये खनिज हमारे शरीर मे इल्केक्ट्रोलाइट के रुप मे काम करता है। यह हमारे शरीर मे तंत्रीका संकेतो(nerves signal) को भेजने और मांसपेशियों मे दबाव(muscle contractions) और द्रव संतुलन(fluid balance) को नियमित करने के लिए जिम्मेदार है। दो खुबानी (70ग्राम) 181 मिलीग्राम खनिज प्रदान करता है जो कि दैनिक मूल्य का 4% है। 33 अध्यनो मे से एक विश्लेषण पाया गया है कि पोटैशियम को सही मात्रा मे लेने से रक्तचाप(blood pressure) बेहतर हो जाती है।
  • रक्तचाप के लिए बेहतर– अधिकांश फलो कि तरह खुबानी मे कि मात्रा ज्यादा होती है, जो हमारी शरीर मे रक्तचाप(blood pressure), तापमान, जोडो को स्वस्थ(joint health) और ह्रदय गति को नियंत्रित करने मे मदद करती है। एक कप खुबानी (165ग्राम), ताजे खुबानी खाने से हमे 142 मि.ली(ml) प्रदान करता है। जो भी व्यक्ति पानी कम पिते है, ताजे खुबानी का रोजाना सेवन से उनकी जरुरत पुरी हो सकती है।
  • त्वचा के लिए – खुबानी का फल खाने का अलावा त्वचा के लिए भी फायदेमंद है, इससे बनने वाला तेल त्वचा के लिए बेहतर माना जाता है, इस मे पाये जाने वाले विटामिन C और विटामिन E आपकी त्वचा के सहायक होते है। विटामिन C त्वचा पर पडने वाले अल्ट्रा वॉयलेट किरण से बचाता है।

सारांश- रोजाना खुबानी के सेवन करने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है और इसमे पाये जाने वाले पौष्टिक त्वत हमारे शरीर को लिए लाभदायक है। यह हमे कव्ज जैसी बिमारी से भी दुर रखता है।

खुबानी (Apricot) फल से होने वाले नुकसान के:

कोई भी चीज अत्यधिक(excess) खराब हि होती है या फिर वो खाना हो या सोना।

  • सूखी हुयी खुबानी का सेवन करना आंतो(bowel obstruction) के लिए गलत माना जाता है।
  • सूखी हुयी खुबानी का सेवन करने से उल्टी और पेट के नीचे दर्द(abdominal pain) जैसी दिक्क्ते भी हो सकती है।
  • मधुमेह के रोगीयो के लिए भी सूखी हुयी खुबानी का सेवन करना भारी पड सकता है।
  • इसके अधिक सेवन से रक्तचाप से पीडित मरीजो पर नाकारात्मक प्रभाव हो सकता है।
  • खुबानी के बीज मे जहरीला रसायन साइनाइड का उच्च मात्रा मे पायी जाती है। इसलिए खुबानी के बीज का सेवन गलत माना जाता है।

खुबानी(Apricot) फल को कैसे खाये कि फायदा हो?

किसी भी खाने के चीज को एक उचित मात्रा मे लिया जाये तो शरीर के लिए बेहतर होता है। खुबानी के फल को सुखा के भी खाया जाता है, कई जगह इसे सुखा के मसाले मे भी इस्तेमाल किया जाता है। खुबानी एक मिठा फल होता है तो आप इसे खाना खाने के बाद भी खा सकते है मिठे के तौर पर।

खुबानी (Apricot) फल के बारे कुछ रोचक तथ्य:

  • इसके वैज्ञानिक नाम प्रुनस आर्येनियाका (Prunus Armenica) है।
  • खुबानी को तेल कान दर्द के लिए भी बेहतर माना जाता है।
  • खुबानी का तेल और खुबानी से बने फेस क्रिम त्वचा के लिए लाभदायक होते है।
  • खुबानी फल कई औषधीय गुणो से भरा स्वादिष्ट फल है।
  • खुबानी का पेड 8-12 मीटर लंबा होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.