pradhanmantri karm yogi mandhan yojna

क्या है प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना

साल दर साल केंद्र सरकार भारतीय जनता के लिए कोई न कोई तोहफा लेकर आ रही है और भारतीय जनता के लिए ये जरुरी भी है और भारतीय जनता को तोहफा नाम का शब्द है तो फिर तोहफा क्यो नही पसंद होगा। इससे पहले केंद्र सरकार ने किसान को, महिलाओं को और देश के युवाओं को तोहफा दे चुकि है, अब तोहफा की बारी थी देश के छोटे व्यापारीयों, छोटे दुकानदारों और कारोबारी का था। इस योजना के अंतर्गत देश के छोटे व्यापारीयों, छोटे दुकानदारों और कारोबारी जो भारत सरकार को GST पे करते है। जिनका वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ तक है उनको प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना के अंतर्गत लाभार्थी के रूप में स्वीकृत किया जाएगा। प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना 2019 में पंजीकरण  के लिए 3.2 लाख जनसेवा  केंद्र(CSC) को यह काम सौंपा गया है।

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना क्या है

इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार के द्वारा भारतीय बीमा योजना निगम को नोडल एंजेसी की तरह चुना गया है। प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना का लाभ उठाने के लिए कारोबारीयों और व्यापारीयों की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए और आवेदक का उम्र 60 वर्ष होने पर हर माह 3000 रुपये पेंशन के तौर पर मिलेगा। इस योजना का लाभ ठाने के लिए आपको सबसे पहले प्रीमीयम भरना पडेगा, अगर कारोबारी या व्यापारी का उम्र 18 वर्ष है तो उसे न्यूनतम 55 रुपये प्रीमीयम हर महीने भरना होगा। अगर कारोबारी या व्यापारी का उम्र 40 वर्ष है तो उसे न्यूनतम 200 रुपये प्रीमीयम हर महीने भरना होगा

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना के तहत मिलने वाली राशि मतलब पेंशन राशि आवेदक के सीधे बैंक खाता मे पहुंचाई जायेगी। हम सभी को इस बात की जानकारी तो होगी आज के समय मे वही बैंक खाता वैध माना जायेगा जो बैंक अकाउंट से आधार कार्ड से लिंक होगा। जिन छोटे कारोबारियों तथा व्यापारियों की 60 साल की उम्र के बाद कोई आमदनी का सहारा नहीं होता है वो लोग इस योजना के ज़रिये मिलने वाली पेंशन से अपना जीवनयापन कर सकते है|

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना उद्देश्य

pradhanmantri karm yogi mandhan yojna

हम सभी जानते है कि जो लोग अपने वृध्दावस्था मे पहुंच जाते है उनके लिए जीवनयापन करना उतना ही भारी पडता है। जो लोग अपने उम्र के 60 वर्ष मे पहुंच जाते है उनके लिए सरकार पेंशन का योजना बनाती है, जैसे सरकारी नौकरी से जुडे सभी लोगो के लिए ये प्रावधान है ठीक इसी तरह से सरकार छोटे कारोबारीयों के लिए और व्यापारीयों के लिए भी ये प्रावधन बना चुकी है।

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना के मुख्य तथ्य

  • आवेदन करने के बाद 60 साल के उम्र मे आवेदक को 3000 रुपये प्रतिमाह मिलेंगे।
  • 18 वर्ष के उम्र के कारोबारी को 55 रुपये और 40 वर्ष के कारोबारी को 200 रुपये प्रीमीयम के तौर पर जमा करना होगा।
  • इस योजना का लाभ देश के कारोबारीयो, व्यापारीयों और किसान भी उठा सकते है।
  • इस योजना का आवेदन करने के लिए आपको ऑनलाइन बेवसाइट की मदद लेनी होगी।
  • 60 साल उम्र होने पर पेंशन राशि सीधे बैंक अकाउंट मे ट्रांसफर कर दिया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना के जरुरी कागजात
  • सबसे पहले तो योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी उम्र 18 से लेकर 40 वर्ष तक की होनी चाहीए।
  • इस योजना के लिए आवेदन वो ही कर सकते है जो कारोबारी है या फिर व्यापारी है।
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • GST पंजीकरण संख्या

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना के लिए आवेदन कैसे करें

जैसा कि आपको पहले ही बताया है कि इस योजना के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नजदीकी जन सेवा केंद्र मे जाकर संपर्क करें।

जो कागजात के बारे मे उपर मे आपने पढा है उन सभी कागजो को लेकर जाये और जन सेवा केंद्र के एजेंट के पास जाकर सभी कागजो को जमा कर दे और इसके बाद आपका फार्म भरा जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *