small pocket in jeans

क्यों रखी जाती है जीन्स में छोटी सी पॉकेट?

जीन्स में छोटी सी पॉकेट क्यों रखी जाती है

जीन्स एक जमाने से फैशन मे चलता आ रहा है और अभी तक जीन्स का फैशन पुराना(ओल्ड) नही हुआ है और नाही लोगो ने इसे अपने से दूर किया है। जीन्स आज के युवा कि पहली पसंद है और आज के युवा इस फैशन के अभ्यस्त हो गये है। जीन्स के अलग-अलग प्रकार के होते है और अलग-अलग ब्रांड के भी होते है। लडको के द्वारा पहने जाने वाले जीन्स स्लिम जीन्स, रेगुलर जीन्स, रिलैक्सेड जीन्स और लुज जीन्स। लडकीयो के द्वारा पहने जाने वाली जीन्स स्लिम जीन्स, रेगुलर जीन्स, रिलैक्सेड जीन्स, लुज जीन्स, बॉयफ्रेंड जीन्स, फ्लेयर्ड जीन्स, स्किनि जीन्स, बुटकट जीन्स और स्ट्रेट जीन्स। जीन्स को कभी भी और कहीं भी(डेट,पार्टी,घुमने के लिए या फिर रफ युज के लिए) पहनकर जा सकते है। आप सोच भी नही सकते है किसी देश मे जीन्स पहनने पर रोक भी हो सकता है, जबकी हम सभी जानते है की जीन्स आज फैशन का अहम हिस्सा बन चुका है।

हम सभी को जीन्स पहनना अच्छा लगता है और हम सभी पहनते भी है, लेकिन हम मे कितने लोग इस बात को जानते है की जीन्स के दायें तरफ जो पॉकेट के एक छोटी सी जो पॉकेट होती है वो किसलिए होती है। हम सब के मन मे ये सवाल एक बार को जरुर आया होगा की ये छोटी पॉकेट क्यो है या फिर ये छोटी पॉकेट किसलिए दि गयी है। हम सब इस बात को नही जान सके लेकिन हमने पॉकेट का ज्यादातर इस्तेमाल सिक्को को रखने मे ही किया है। जीन्स मे दि जाने वाली छोटी पॉकेट घडी रखने के लिए दि जाती है।

यह भी पढ़े: टाई बांधने के तरीके

जीन्स में छोटी सी पॉकेट क्यों रखी जाती है

जीन्स में छोटी पॉकेट

आपको बता दे की जीन्स का इतिहास बहुत ही पुराना है। जीन्स को शुरुआती दिनो मे नाविको और मजदुरो ने अपनाया था क्योकि इसके कपडे मोटे होते है और मजदूर और नाविक उस जमाने मे रोज कपडो को नही खरीद सकते थे। बदलते समय के साथ लोगो की सोच भी बदली और जीन्स मजदूरो से उठकर फैशन बनता चला गया और लोगो मे इसे अपनाया भी। एक जमाने मे चैन वाली छोटी घडी चलती थी और इसी घडी को रखने के लिए जीन्स मे छोटी पॉकेट दि जाती थी लेकिन जमाना बदला घडी की जगह भी बदल और घडी भी बदली, घडी अब लोगो के हाथो मे दिखता लेकिन पॉकेट आज भी जीन्स के दायें तरफ ही दिखती है, पॉकेट का जगह नही बदला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *