munawwar-rana

मुनव्वर राणा बायोग्राफी | Munawwar Rana Biography in Hindi

मौजूदा समय में मुनव्वर राणा के नाम को लेकर सभी काफी अच्छी तरह से परिचित होंगे जिसमें उनके नाम को जहां कुछ अच्छी वजहों से पहचान मिली तो वहीं विवाद भी उनके नाम से जुड़ते हुए दिखाई दिए। मुनव्वर राणा का जन्म 26 नवंबर 1952 के उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हुआ था।

munawwar-rana

राणा का अधिकतर परिवार बटवारें के समय पाकिस्तान में जाकर बस गया था, जबकि उनके पिता ने भारत में ही रहने का फैसला किया था, इसके बाद मुनव्वर की शुरुआती पढ़ाई कोलकाता में हुई थी, जहांं पर रहते हुए मुनव्वर राणा का झुकाव नक्सलवाद की तरफ हो गया था। जब इस बारे में मुनव्वर राणा के पित को पता चला तो उन्होंने अपने बेटे को 2 साल के लिए घर से निकाल दिया था, जिसको लेकर मुनव्वर राणा ने बाद में कहा था, कि उन्होंने इन 2 सालों में अपने जीवन को लेकर काफी कुछ सीखने का मौका मिला।

यह भी पढ़े: हरिवंश राय बच्चन जीवन परिचय

इसके बाद राणा लखनऊ में जाकर बस गए जो उनके पंसदीदा शहरों में से एक है। यहां पर राणा की मुलाकाल प्रसिद्ध गजल शायर वसी अली से हुई जिनके दिशा निर्देशों पर चलते हुए मुनव्वर राणा भी इस तरफ आर्किषित हुए। जिसमें राणा ने पहली बार अपनी नज्मों को दिल्ली के एक मुशायरे में सुनाया था। मुनव्वर को अपनी मां से बेहद प्रेम था, जिस कारण अधिकतर गजलों में उनका जिक्र देखने को मिल जाएगा।

# विवाद: साल 2015 से राणा को विवादों में उस समय पड़ते हुए देखा गया जब उन्होंने दादरी में हुई एक घटना के बाद विवादास्पद नज्म लिखी थी, जिसको लेकर उनकी सोशल मीडिया पर बेहद आलोचना हुई थी। इसके बाद मुनव्वर ने उसी साल साहित्य अकादमी अवार्ड को वापस करते हुए कहा कि वह भविष्य में किसी तरह के सरकारी अवार्ड को नहीं लेगें।

Munawwar Rana

# प्रमुख कृतियां: राणा की अभी तक एक दर्जन से भी अधिक किताबें छप चुकी हैं, जिनमें से हम आपको कुछ प्रमुख के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी वजह से उनको सबसे ज्यादा प्रसिद्धी मिली।

  1. माँ
  2. ग़ज़ल गाँव
  3. पीपल छाँव
  4. बदन सराय
  5. नीम के फूल
  6. सब उसके लिए
  7. घर अकेला हो गया
  8. कहो ज़िल्ले इलाही से
  9. बग़ैर नक़्शे का मकान
  10. फिर कबीर
  11. नए मौसम के फूल

यह भी पढ़े: सरदार पटेल जीवन परिचय

# पुरस्कार एवं सम्मान

  1. 1993 – रईस अमरोहवी अवार्ड (रायबरेली)
  2. 1995 – दिलकुश अवार्ड
  3. 1997 – सलीम जाफरी अवार्ड
  4. 2001 – मौलाना अब्दुर रज्जाक़ मलीहाबादी अवार्ड (वेस्ट बंगाल उर्दू अकादमी )
  5. 2004 – सरस्वती समाज अवार्ड, अदब अवार्ड
  6. 2005 – डॉ॰ जाकिर हुसैन अवार्ड (नई दिल्ली), ग़ालिब अवार्ड (उदयपुर), शहूद आलम आफकुई – अवार्ड (कोलकाता), मीर तक़ी मीर अवार्ड
  7. 2006 – अमीर खुसरो अवार्ड (इटावा)
  8. 2012 – ऋतुराज सम्मान पुरस्कार
  9. 2014- साहित्य अकादमी पुरस्कार (सरकार से बेरूखी के कारण जिसे लौटा चुके हैं.)
  10. भारती परिषद पुरस्कार, अलाहाबाद
  11. बज्मे सुखन पुरस्कार, भुसावल
  12. मौलाना अबुल हसन नदवी अवार्ड
  13. उस्ताद बिस्मिल्लाह खान अवार्ड
  14. कबीर अवार्ड

यह भी पढ़े: झांसी की रानी जीवन परिचय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *